Haryana Gk

Haryana Famous Lakes State Wise list | हरियाणा की झीलें | Haryana GK

Haryana Famous Lakes State Wise list

दोस्तो इस पोस्ट मे हम जानेंगे हरियाणा राज्य के सभी प्रमुख झीले (Haryana Famous Lakes) जो की सभी प्रतियोगी परीक्षाओ मे अक्सर पूछी जाती है हमने हरियाणा राज्य की सभी प्रमुख झीलों को जिले बार बाटा कर आपके सामने प्रस्तुत किया है जिससे इन्हे याद करने मे आपको परेशानी न हो , आशा करते हैं कि यह  जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हो । 

नूहं जिले में स्थित सभी प्रमुख झीलें

1. कोटला झील

  • नूहं जिले में स्थित कोटला झील कुल क्षेत्रफल 20 वर्ग किलोमीटर है। 
  • कोटला झील की लंबाई 5 किलोमीटर तथा चौड़ाई 4 किलोमीटर है। 
  • नूहं तथा फिरोजपुर  झिरका पहाड़ी की श्रंखला के पूर्व अवस्थित है। 
  • 1838 में इस झील के पानी को  संगेल उर्फ उजीना झील की ओर मोड़ने के लिए एक बांध बनाया गया था  जिसको बाद में उजीना नामक स्थान तक बढ़ाया गया।  

करनाल जिले में स्थित झील

1. कर्ण झील 

  • करनाल में स्थित कर्ण झील जो कि महाभारत के प्रमुख पात्र दानवीर कर्ण  के नाम पर बनी है साथ    ही करनाल का नाम भी कर्ण के नाम पर ही पड़ा है।
  • कर्ण झील को करनार चक्रवती झील के नाम से भी जाना जाता है। 
  • यह झील शेरशाह सूरी मार्ग पर जीटी रोड पर अवस्थित है। इसकी बिल्कुल साथ में ही ओयासिस नामक पर्यटन स्थल भी स्थित है।  
  • कर्ण झील में ही कर्ण अक्सर स्नान किया करते थे और यहीं पर उन्होंने अपने कवच कुंडल इंद्रदेव को  दान में दे दिए थे। 

 कुरुक्षेत्र जिले में स्थित झील

1.  सन्निहित सरोवर

  • सन्निहित सरोवर हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है। यह पैनोरमा और श्रीकृष्ण संग्रहालय के पास में स्थित है। 
  • महाभारत के ” वन पर्व” में इसका उल्लेख मिलता है। 
  •  गुरुद्वारा छठी पातशाही के समीप है। 
  • सन्निहित सरोवर के समीप एक दु:खभजनेश्वर मंदिर ,एक नारायण मंदिर है तथा एक लक्ष्मी नारायण मंदिर स्थित है।  लक्ष्मी नारायणा मंदिर दक्षिण भारत की कला का वैभव देखने को मिलता है। 

2.  ब्रह्म सरोवर

  • ब्रह्मसरोवर एशिया का सबसे बड़ा मानव निर्मित सरोवर है। जिसका उल्लेख महाभारत तथा वामनपुराण में मिलता है। तथा इसका संबंध सीधे परमपिता ब्रह्मा से जुड़ा गया है। 
  • राजा कुरु के द्वारा इसे खुदवाया गया था। 
  • ब्रह्म सरोवर के पानी में सर्वेश्वर महादेव मंदिर स्थित है इस मंदिर का निर्माण बाबा  स्वर्णनाथ द्वारा करवाया गया था। 
  • ब्रह्म सरोवर के बीच में पुरुषोत्तमपुरा बाग है जहां पर एक आरती स्थल है, एक विशालकाय रथ  है, जिस पर भगवान श्री कृष्ण अर्जुन के सारथी हैं।  
  • पुरुषोत्तमपुरा बाग में  कात्यायनी देवी मंदिर तथा प्राचीन मंदिर चंद्र कूप पांडव द्रोपदी कूप है।साथी प्राचीन सिद्ध श्री पूर्वमुखी हनुमान मंदिर भी पुरुषोत्तम पुरा भाग में स्थित है। 

पलवल जिले में स्थित झील (Haryana Famous Lakes )

1.  डबचिक झील 

  • पलवल में स्थित डबचिक झील 22 एकड़ में  विस्तृत है। 
  • डबचिक  झील पलवल के होटल में स्थित है जो कि 1985-86 मे सूख भी गई थी। 

 पंचकूला में स्थित झील

1.  टिक्कर  ताल

  • पंचकूला में स्थित टिक्कर ताल झील मोरनी हिल्स में स्थित है।  मोरनी हिल्स को पहाड़ों की रानी के नाम से भी जाना जाता है। मोरनी हिल्स की सर्वोच्च पर्वत चोटी का नाम करोह जिस की समुद्र तल से ऊंचाई 1514 मीटर है।  
  • टिक्कर ताल के पास में ही एडवेंचर स्पोर्ट्स स्थित है। 

 हिसार में स्थित झील (Haryana Famous Lakes )

1.  ब्लू बर्ड

  • हिसार में स्थित ब्लू बर्ड झील 16 एकड़ में स्थित है। 

 फतेहाबाद में स्थित झील

 1 चिल्ली झील

  • फतेहाबाद में स्थित चिल्ली  झील में ही स्वर्ण जयंती हेरीटेज पार्क का निर्माण किया गया है। 

यमुनानगर में स्थित झील

  1 जौहर हथनीकुंड

    •  यमुनानगर में स्थित जोहड़ हथनीकुंड का निर्माण 1966 मे  प्रारंभ हुआ था तथा 1999 में यह बनके तैयार हो गया था । 
    • इस कुंड की कुल लंबाई 360 मीटर है। 

गुरुग्राम में स्थित प्रमुख झीलें

1. दमदमा

  • गुरुग्राम में स्थित दमदमा झील सोहना से 8 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। 
  • दमदमा झील का कुल क्षेत्रफल लगभग 12.14 वर्ग किलोमीटर है। 
  •  यह अरावली की पहाड़ियों से घिरी खूबसूरत झील  है। 

2. सुल्तानपुर झील

  •  यह झील गुरुग्राम से 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 
  • इस झील पर प्रतिवर्ष 100 से ज्यादा प्रजाति के प्रवासी पक्षी आते है। बारहेडीड़गूंजे नामक पक्षी लद्दाख और साइबेरिया से आती है जो सबसे ऊंची उड़ान भरती है।  
  •  सुल्तानपुर झील का कुल क्षेत्रफल 325.17  एकड़ है। 

3. बसई झील

  • यह मूल रूप से आद्र भूमि है, और इसे “बसई आद्र भूमि” के नाम से भी जाना जाता है। 

4.  घाटा झील

  • यह झील गुरुग्राम के सेक्टर 58 में स्थित है। 

5.  भीमकुंड झील

  • यह गुरुग्राम के भीम नगर में 10 एकड़ में स्थित है। और इससे पीचोखड़ा जोहर के नाम से भी जाना जाता है। 

6.  खलीलपुर

  • यह झील पटौदी तहसील के अंतर्गत आती है। 
  • खलीलपुर झील ग्रीष्म ऋतु में अक्सर सूख जाती है। 
  •  इस झील का विस्तार 607 हेक्टेयर में फैला हुआ है। 

 फरीदाबाद में प्रमुख झीलें

1. बड़खल झील

  • हरियाणा की प्रमुख झील बड़खल झील है यह एक मानव निर्मित झील है। 
  •  इसका निर्माण सिंचाई परियोजना के अंतर्गत 1947 में किया गया था। जिसका उद्देश्य भूमि के कटाव को रोकना था। 
  • बड़खल झील बड़खल गांव में स्थित है इस गांव का नाम फारसी भाषा से लिया गया है बड़खल का हिंदी में अर्थ होता है “बिना किसी रूकावट के” ।  
  • बड़खल झील अरावली पर्वतमाला के किनारे पर स्थित है। 

2.  धौज  झील

  • धौज झील फरीदाबाद से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है । 

3. मयूर झील

  •  यह झील बड़खल झील के निकट स्थित है। 

4.  अनंगपुर झील

  • यह झील आनंगपुर गांव में स्थित है। 

5.  सूरजकुंड 

  • यह अनंगपुर बांध से 2 किलोमीटर  दूरी पर स्थित है। 
  • इसे तोमर वंश के राजा सूरजमल के द्वारा बनवाया गया था। और अनंगपाल द्वितीय ने भी इसे बनवाया था। 

रोहतक में स्थित झील

1. तिल्यार झील 

  • रोहतक में तिल्यार झील है जो कि 132 एकड़ में स्थित है। रोहतक शहर के पास है
  •  तिल्यार झील के बगल में ही रोहतक चिड़ियाघर स्थित है। 

दोस्तो , इस पोस्ट मे हमने हरियाणा राज्य मे स्थित सभी प्रमुख झीलों (Haryana Famous Lakes) के बारे मे जानकारी आपके साथ साझा की है जो कि आने वाले समय में हरियाणा में आयोजित होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है साथ है सभी अन्य प्रतियोगी परीक्षाओ मे भी इस विषय से प्रश्न पुछे जाते है यदि आप  प्रतियोगी परीक्षा कि तैयारी कर रहे है तो आप के इस प्रतियोगी परीक्षा के सफर मे studysafar आपके साथ निरंतर साथ है इसी लिए आप हमारी वैबसाइट studysafar.com को अपने  वेब  ब्राउज़र  मे bookmark अवश्य कर ले।

अन्य महत्वपूर्ण जानकारी :

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top
error: Content is protected !!