MP Gk

Soil of Madhya Pradesh Important Question

मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान: Important Question on Soil of Madhya Pradesh|| For MP police and Jail Prahari Exam

नमस्कार! दोस्तों Study Safar .com में आप सभी का स्वागत है। आज के आर्टिकल में हम (Soil of Madhya Pradesh Important Question) आपके लिए मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान का एक महत्वपूर्ण टॉपिक लेकर आए हैं, जिसमें हम आपके साथ मध्यप्रदेश

Advertisement
में पाई जाने वाली मिट्टी की संपूर्ण जानकारी व से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर शेयर करेंगे। जो की परीक्षा में पूछे जाते हैं, जैसा कि आपको ज्ञात होगा कि आने वाले कुछ महीनों में मध्यप्रदेश में जेल पहरी की परीक्षा आयोजित होने वाली है इस दृष्टि से यह टॉपिक और भी महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि इसमें एमपी जीके से संबंधित प्रश्न अवश्य ही पूछे जाएंगे। 

तो आइए जानते हैं कि मध्यप्रदेश में कौन सी मिट्टी पाई जाती है? वह किन किन क्षेत्रों में पाई जाती है? और इन में कौन-कौन से तत्व मौजूद होते हैं?

मध्यप्रदेश में पाई जाने वाली मिट्टियां और उनके प्रकार

मध्यप्रदेश में प्रमुख रूप से पांच प्रकार की मिट्टियां पाई जाती हैं। 

  1. काली मिट्टी
  2. लाल पीली मिट्टी
  3. जलोढ़ मिट्टी कछारी मिट्टी
  4. लेटराइट मिट्टी
  5. मिश्रित मिट्टी

1.काली मिट्टी

Soil in mp

  • प्रदेश में काली मिट्टी 47% क्षेत्र में पाई जाती है। 
  • इस का PH मान 7. 5 से 8. 5 होता है। 
  • इसका निर्माण ज्वालामुखी से निकलने वाले लावा के जमने में होता है। 
  • इस मिट्टी में लोहा चूना की प्रचुरता तथा पास भेजे पदार्थों नाइट्रोजन की कमी होती है। 
  • यह कपास के साथ ही गेहूं एवं सोयाबीन के उत्पादन के लिए उपयुक्त मिट्टी है। 

इसको भी तीन भागों में बांटा जा सकता है-

1.गहरी काली मिट्टी –  3.5% नर्मदा सोन मालवा सतपुड़ा क्षेत्र में पाई जाती है। 

2.साधारण काली मिट्टी-  33% मालवा पठार किस क्षेत्र में पाई जाती है    

3.कछारी मिट्टी-   7% सतपुड़ा में कल बैतूल छिंदवाड़ा सिवनी क्षेत्र में पाई जाती है। 



2.लाल पीली मिट्टी

  • यह प्रदेश के 33% भाग में पाई जाती है। 
  • इस मिट्टी का पीएच मान 5.5 से 8.5 होता है। 
  • लाल रंग होने के कारण लोहे का ऑक्सीकरण है। 
  • शुष्क और तर जलवायु में प्राचीन र वेदार और परिवर्तित चट्टानों की टूट-फूट से बनती है। 
  • इस मिट्टी में लोहा एलुमिनियम और चूना अधिक होता है यह मिट्टी अत्यंत रंध युक्त होती है। 
  • इस प्रकार की भूमि में नाइट्रोजन की कमी होती है। 
  • अधिकतर लाल पीली मिट्टी गोंडवाना शैल समूह से निर्मित है। 
  • प्रदेश की संपूर्ण पूर्वी भाग में यह मिट्टी पाई जाती है। 
  • इस मिट्टी की मुख्य फसल धान है। 

3.जलोढ़ मिट्टी/ कछारी मिट्टी

यह मिट्टी प्रदेश के 3% भाग पर ही पाई जाती है। 

  • इस का पीएच मान 7 से अधिक होता है। 
  • प्रदेश की सर्वाधिक उपजाऊ मिट्टी जलोढ़ मिट्टी है। 
  • जलोढ़ मिट्टी प्राया विभिन्न प्रकार के पदार्थों से मिलकर बनी होती है जिसमें सिल्ट, बालू तथा मृतिका होते हैं। 
  • जिसका निर्माण नदियों द्वारा बहा कर लाई गई कछारों से होता है।
  • इस मिट्टी में गेहूं गन्ना सरसों आदि फसलों की उपज होती है। 
  • मिट्टी मुरैना, ग्वालियर एवं शिवपुरी क्षेत्र में पाई जाती है। 

प्रदेश में जलोढ़ मिट्टी मुख्य रूप से तीन प्रकार की पाई जाती है

  1. बांगर मिट्टी
  2. पुरानी जलोढ़ मिट्टी
  3. भावर जलोढ़ मिट्टी
यह भी जाने :-  मध्यप्रदेश की चर्चित पुस्तकें और उनके लेखक      Click Here

4.लेटराइट मिट्टी

  • यह मिट्टी छिंदवाड़ा, बालाघाट के 70% भाग में पाई जाती है। 
  • इस मिट्टी को भाटा के नाम से भी जाना जाता है। 
  • लेटराइट मिट्टी का निर्माण ऐसे भागों में हुआ जहां शुष्क व मौसम बराबरी से होता है। 
  • यह लेटराइट चट्टानों की टूट-फूट से बनती है यह मिट्टी चौरस उच्च भूमियों पर मिलती है। 
  • इस मिट्टी में लोहा ,एलुमिनियम और चूना अधिक होता है गहरी लेटराइट मिट्टी में लोहा ,ऑक्साइड और पोटाश की मात्रा अधिक होती है। 
  • लेटराइट मिट्टी चावल, कपास, गेहूं, दाल ,मोटे अनाज आदि फसलों के लिए उपयोगी है। 

5.मिश्रित मिट्टी

  • इस मिट्टी में लाल -पीली ,काली मिट्टी का मिश्रण पाया जाता है यह मुख्य रूप से बुंदेलखंड क्षेत्र में पाई जाती है।
  • इस मिट्टी में नाइट्रोजन, फास्फोरस और कार्बनिक पदार्थ की कमी होती है। 
  • मिट्टी में अधिक मात्रा में रहने वाले तत्व- नाइट्रोजन, पोटेशियम और फास्फोरस। 
  • कम मात्रा में रहने वाले तत्व-  लोह तत्व, गंधक और सिलिका।

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने भारत की मिट्टी को 8 समूह में बांटा है

  1. जलोढ़ मिट्टी
  2. काली मिट्टी
  3. लाल पीली मिट्टी
  4. लेटराइट मिट्टी
  5. शुष्क मृदा
  6. लवणीय मृदा
  7. पीठ में मृदा तथा जैव मृदा
  8. वन मृदा

मध्य प्रदेश की मिट्टी से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तरी (Soil of Madhya Pradesh Important Question)

Q 1. भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान कहां है?

उत्तर – भोपाल

Q 2. मध्यप्रदेश में मृदा अपरदन की समस्या कहां पर है?

उत्तर- मुरैना

Q 3.मालवा का पठार किस मिट्टी से बना है?

उत्तर- काली मिट्टी

Q 4. मध्य प्रदेश की उत्पाद वेटलैंड भूमि परिणाम है?

उत्तर- अवनालिका अपरदन का

Q 5.किस राज्य में काली मिट्टी की प्रचुरता है?

उत्तर- मध्य प्रदेश,आंध्र प्रदेश और गुजरात

Q 6. दक्षिणी बुंदेलखंड क्षेत्र में किस प्रकार की मिट्टी पाई जाती है?

उत्तर- काली मिट्टी




Q 7. काली मिट्टी को और किस नाम के नाम से जाना जाता है?

उत्तर- रेगुर

Q 8.मध्य प्रदेश के किस जिले में सर्वाधिक आलू का उत्पादन होता है?

उत्तर- छिंदवाड़ा

Q 9.मिट्टी के अध्ययन के विज्ञान को कहा जाता है?

उत्तर- पैडोलॉजी

Q 10.काली मिट्टी के क्षेत्र में सर्वाधिक क्षेत्र किस मिट्टी का है?

उत्तर- साधारण गहरी काली मिट्टी

Q 11. लाल पीली मिट्टी मध्य प्रदेश की किस पठार में पाई जाती है?

उत्तर- बुंदेलखंड

Q 12.मध्यप्रदेश में मिश्रित मिट्टी का मुख्य क्षेत्र कौन सा है?

उत्तर- बुंदेलखंड

दोस्तों उपरोक्त आर्टिकल में हमने MP GK का एक महत्वपूर्ण टॉपिक (Soil of Madhya Pradesh Important Question) आपके साथ शेयर किया।  जिसमें हमने मध्य प्रदेश में पाई जाने वाली मिट्टियों की संपूर्ण जानकारी आपके साथ सांझा की, आशा है आपको इसके अध्ययन से परीक्षा में आने वाले प्रश्नों को हल करने में मदद मिलेगी।  धन्यवाद!

Related Artical:- 

Madhya Pradesh ke Pramukh Loknatya Click Here
Madhya Pradesh ke Pramukh Puraskar aur Samman Click Here
मध्य प्रदेश की नदी घाटी परियोजना महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तरी Click Here
Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
Close