Mp Gk : Madhya Pradesh ke Pramukh National Park

National Park of Madhya Pradesh

नमस्कार!दोस्तों Studysafar.comमे आप सभी का स्वागत है।इस पोस्ट में हम आपके साथ एमपी जीके (Mp Gk : Madhya Pradesh ke Pramukh National Park ) का एक महत्वपूर्ण टॉपिक मध्य प्रदेश के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान आपके साथ सांझा कर रहे हैं। इस आर्टिकल में हम मध्य प्रदेश के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यानों को विस्तार पूर्वक जानेंगे।  इससे संबंधित प्रश्न मध्य प्रदेश के सभी स्टेट लेवल का एग्जाम जैसे MPPSC,MPSI,MP POLICE मैं मुख्य रूप से पूछे जाते हैं इस आर्टिकल की सहायता से आपको इससे संबंधित प्रश्नों को हल करने में मदद मिलेगी। मध्य प्रदेश के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान इस प्रकार है।

मध्यप्रदेश के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान   (Madhya Pradesh ke Pramukh National Park)

कान्हा किसली राष्ट्रीय उद्यान

  • यह राष्ट्रीय उद्यान मंडला जिले के अंतर्गत आता है
  • इसी सन 1933 में अभ्यारण तथा 1955 में नेशनल पार्क बनाया गया था
  • कान्हा किसली राष्ट्रीय उद्यान को 1974 में बाघ परियोजना (टाइगर रिजर्व) में शामिल किया गया
  • यहां पर हांलो घाटी तथा बंजर घाटी प्रमुख दर्शनीय स्थल है
  • इस राष्ट्रीय उद्यान में वर्ल्ड बैंक की सहायता से  पार्क इंटर प्रिवेंशल योजना चल रही है

पन्ना राष्ट्रीय उद्यान

  •  पन्ना राष्ट्रीय उद्यान मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में पन्ना एवं छतरपुर में फैला हुआ है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 543 वर्ग किलोमीटर है
  •  इस राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना करने से क्या थी में हुई थी तथा इसे 1994 में बाघ परियोजना में शामिल किया गया

 सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह होशंगाबाद जिले में लगभग 525 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है
  • यह सन 1983 में स्थापित किया गया था
  •  इसे 1999- 2000 में प्रोजेक्ट टाइगर में शामिल किया गया है

बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह राष्ट्रीय उद्यान उमरिया शहडोल जिले में है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 437 वर्ग किलोमीटर है
  •  बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना सन 1968 में की गई थी तथा इसे 1993 में बाघ परियोजना में शामिल किया गया था
  •  यहां बाघों का सर्वाधिक घनत्व है (एक बाघ प्रति 8 वर्ग किलोमीटर)
  •  इस राष्ट्रीय उद्यान में सफेद शेर पाए जाते हैं
  •  यह 32 पहाड़ियों से घिरा हुआ है

 संजय राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह राष्ट्रीय उद्यान 1981 में स्थापित किया गया था
  •  यह मध्य प्रदेश के सीधी जिले में है
  •  इस राष्ट्रीय उद्यान का कुछ  हिस्सा छत्तीसगढ़ राज्य में चला गया है
  • का क्षेत्रफल लगभग 467 वर्ग किलोमीटर है
  •  भारत सरकार के अनुसार यह प्रोजेक्ट टाइगर में सम्मिलित है

 पेंच राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह सिवनी, छिंदवाड़ा जिले  तथा महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में फैला हुआ है
  •  इश्क इंडिया प्रियदर्शनी राष्ट्रीय उद्यान कर दिया गया है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 293 वर्ग किलोमीटर है
  •  इसकी स्थापना सन 1975 में हुई थी
  •  पेंच राष्ट्रीय उद्यान को 1993 में टाइगर रिजर्व घोषित किया गया
  •  इस राष्ट्रीय उद्यान में मोगली लेन चित्र तथा वाटर राफ्टिंग सुविधा है

माधव राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह 1958 में स्थापित किया गया था
  •  यह शिवपुरी जिले में स्थित है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 337 वर्ग किलोमीटर है
  •  जॉर्ज कैसल भवन भी यहीं पर स्थित है
  •  इस उद्यान से राष्ट्रीय राजमार्ग 3 आगरा- मुंबई गुजरता है

 फासिल (जीवाश्म) राष्ट्रीय उद्यान

  •  राष्ट्रीय उद्यान डिंडोरी जिले में स्थित है
  •  क्षेत्रफल की दृष्टि से मध्य प्रदेश का सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 0.27 वर्ग किलोमीटर है
  •  इस राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना 1968 में की गई थी
  •  इस उद्यान में पादपों तथा जंतुओं के जीवाश्म पाए जाते हैं

बन बिहार

  •  सन 1979 में स्थापित यह राष्ट्रीय उद्यान भोपाल में स्थित है
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 4.452 वर्ग किलोमीटर है

 ओमकारेश्वर राष्ट्रीय उद्यान

  •  यह राष्ट्रीय उद्यान खंडवा में स्थित है, इसका क्षेत्रफल 293 वर्ग किलोमीटर है

डायनासोर जीवाश्म उद्यान

  • धार जिले में 2010 में स्थापित किया गया था
  •  इसका क्षेत्रफल लगभग 0.897  वर्ग किलोमीटर है

(Mp Gk : Madhya Pradesh ke Pramukh National Park)

 मध्यप्रदेश के प्रोजेक्ट टाइगर में सम्मिलित राष्ट्रीय उद्यान व अभयारण्य

प्रोजेक्ट टाइगर में  6 राष्ट्रीय उद्यान और 1 अभ्यारण शामिल है

  1.  कान्हा किसली राष्ट्रीय उद्यान
  2.  बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान
  3.   पेंच राष्ट्रीय उद्यान
  4.  पन्ना राष्ट्रीय उद्यान
  5.  सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान
  6.  संजय गांधी (डुबरी) राष्ट्रीय उद्यान
  7.  रातापानी (अभ्यारण)
Advertisement

Leave a Comment