Sanskrit Pedagogy Important Questions for MP Samvida Shikshak varg 3

Sanskrit Pedagogy most Important Questions for Mp Samvida varg 3

नमस्कार! दोस्तों Study safar.com में आपका स्वागत है आज इस आर्टिकल में हम (Sanskrit Pedagogy Important Questions for MP Samvida Shikshak varg 3) आपके साथ एमपी संविदा वर्ग- 3CTET के लिए एक ही महत्वपूर्ण टॉपिक संस्कृत शिक्षण शास्त्र (Sanskrit pedagogy) के कुछ अति महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर सांझा कर रहे हैं । जो आपके लिए आन आगामी सभी टीचिंग एग्जाम के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे इन के अध्ययन से आपको परीक्षा में आने वाले प्रश्नों को हल करने में काफी सहायता मिलेगी ,हमने इस आर्टिकल में सिलेबस के अनुसार ही प्रश्नों को शामिल किया है।

संस्कृत शिक्षण शास्त्र महत्वपूर्ण प्रश्नोतर (Sanskrit Pedagogy Important Questions)

 प्रश्न 1. ध्वनि विज्ञान से जुड़े हुए कौशल हैं?

  1. भाषण ,श्रवण
  2. श्रवण, पठन
  3. लेखन,श्रवण
  4. पठन, लेखन

 उत्तर- श्रवण, भाषण

प्रश्न2. लिपि विज्ञान से जुड़े हुए कौशल कौन से हैं?

  1. श्रवण, भाषण
  2. भाषण. लेखन
  3. पठन, भाषण
  4. पठन, लेखन

 उत्तर- पठन, लेखन

 प्रश्न 3. बुद्धि में इनपुट है?

  1. श्रवण
  2. पठान
  3. भाषण
  4. पठन और श्रवण

उत्तर- पठन और श्रवण

 प्रश्न 4. भाषण कौशल हेतु आवश्यक नहीं है?

  1. भाषा क्रीडा
  2. अभिनय
  3. संभाषण
  4. विद्वत्ता

 उत्तर -विद्वत्ता

 प्रश्न 5. छात्रों द्वारा नहीं किया जाता है?

  1. आदर्श वाचन
  2. अनुकरण वाचन
  3. मौन वाचन
  4. समवेत वाचन

उत्तर- आदर्श वाचन

प्रश्न 6. मोहन  वाचन कितने प्रकार का है?

  1. 1
  2. 5
  3. 3
  4. चार

 उत्तर- तीन

 प्रश्न 7. भाषा कौशल के चार सोपान ओं का क्रम है?

  1. पठन ,लेखन ,भाषण, श्रवण
  2. लेखन ,पठन ,श्रवण, भाषा
  3. श्रवण ,भाषण ,पठन, लेखन
  4. भाषा ,श्रवण , पठन ,लेखन

उत्तर-श्रवण, भाषण, पठन, लेखन

 प्रश्न 7. मौखिक अभिव्यक्ति किस कौशल का उद्देश्य है?

  1. श्रवण कौशल
  2. भाषण कौशल
  3. पठन कौशल
  4. लेखन कौशल

उत्तर -भाषण कौशल

 प्रश्न 8. पठन कौशल के विकास के लिए श्रेष्ठ पद्धति है?

  1. अक्षर बोध विधि
  2. पद पद्धति
  3. वाक्य पद्धति
  4. कथा पद्धति

 उत्तर- पद पद्धति

प्रश्न 9. इस कौशल में वर्तनी को ज्यादा महत्व दिया जाता है?

  1. श्रवण
  2. भाषण
  3. पठन
  4. लेखन

 उत्तर- लेखन

 प्रश्न 10. “स्वजन स्वजनों मां भूत” किस कौशल के प्रसंग में कहा गया है?

  1. श्रवण ,कौशल
  2. भाषण, कौशल
  3. पठन ,कौशल
  4. लेखन, कौशल

 उत्तर -भाषण, कौशल

प्रश्न 11 .”श्रुत्वा अर्थ ग्रहणम” किस कौशल का उद्देश्य है?

  1. श्रवण कौशल
  2. पठन कौशल
  3. भाषण कौशल
  4. लेखन कौशल

 उत्तर – श्रवण कौशल

 प्रश्न 12. पठन कौशल की सबसे प्राचीन विधि है?

  1. अक्षर बोध विधि
  2. पद पद्धति
  3. वाक्य पद्धति
  4. कथा पद्धति

 उत्तर -अक्षर बोध विधि

प्रश्न 13. लेखन कौशल की विधि नहीं है?

  1. दृष्टि लेखन विधि
  2. पद पद्धति विधि
  3. श्रुतलेखन विधि
  4. अक्षरा अनुकरण विधि

 उत्तर -पद पद्धति विधि

 प्रश्न 14. प्राथमिक स्तर पर लेखन कौशल के विकास के लिए श्रेष्ठ विधि है?

  1. श्रुतलेखन विधि
  2. जैकाटोंट पद्धति
  3. ट्रैकिंग विधि
  4. पद पद्धति

 उत्तर- जैकाटोंट पद्धति

प्रश्न 15. बार-बार रखने की विधि है?

  1. परायण  विधि
  2. व्याख्यान विधि
  3. सूत्र विधि
  4. अव्याकृत विधि

 उत्तर- परायण विधि

 प्रश्न16. दैनिक कौन कहलाता है?

  1. परीक्षा में 2 दिन में लंबा करने वाला
  2. परीक्षा में दो छुट्टियां करने वाला
  3. दीन हीन व्यक्ति
  4. प्रतिदिन पाठ करने वाला

 उत्तर- परीक्षा में दो त्रुटियां करने वाला

 प्रश्न 17.  व्याकरण शिक्षण में व्याख्या का अंग नहीं है?

  1. चर्चा
  2. परिचर्चा
  3. उदाहरण
  4. प्र्त्युउदाहरण

 उत्तर- परिचर्चा

 प्रश्न 18. दंडानवेविधि में दंड प्रतीक है?

  1. पद का
  2. लकड़ी का
  3. वाक्य का
  4. अनुशासन का

 उत्तर- वाक्य का

 प्रश्न 19 . व्याकरण आत्मक प्रश्न होते हैं?

  1. दंड आवे में
  2. खंडान्यवे विधि में
  3. गीत विधि में
  4. भाषा अनुवाद विधि में

उत्तर- खंडान्यवे विधि में

 प्रश्न 19. महाभाष्य में व्याकरण शिक्षण की किस विधि का प्रयोग किया गया है?

  1. सूत्र विधि
  2. व्याख्या विधि
  3. आप यकृत विधि
  4. पारायण विधि

 उत्तर- व्याख्या विधि

प्रश्न 20. व्याकरण शिक्षण की श्रेष्ठ विधि है?

  1. आर्या कृत विधि
  2. सूत्र विधि
  3. आगमन निगमन विधि
  4. समवाय विधि

 उत्तर -आगमन निगमन विधि

(Sanskrit Pedagogy Important Questions for MP Samvida Shikshak varg 3)

 प्रश्न 21. श्री राम कृष्ण गोपाल भंडारकर इस के प्रवर्तक हैं?

  1. आगमन विधि
  2. निगमन विधि
  3. व्याकरण अनुवाद विधि
  4. अनौपचारिक विधि

 उत्तर-व्याकरण अनुवाद विधि

प्रश्न 22. काठिन्य निवारण सुकराती विधि है?

  1. उद्बोधन विधि
  2. प्रवचन विधि
  3. स्पष्टीकरण विधि
  4. प्रश्नोत्तर विधि/ संवाद विधि

 उत्तर- प्रश्नोत्तर विधि

प्रश्न 23. गद्य शिक्षण में पहले पाठ होता है?

  1. आदर्श वाचन
  2. अनु वाचन
  3. मोहन  वाचन
  4. समवेत वाचन

 उत्तर -आदर्श वाचन

प्रश्न 24.  काव्य शिक्षण में रस की अनुभूति किस स्थान पर होती है?

  1. प्रस्तुतीकरण
  2. काठिन्य निवारण
  3. सस्वर वाचन
  4. पाठ प्रवर्धन

उत्तर -सस्वर वाचन

प्रश्न 25. ग्रहणविभक्ति उद्देश्य है?

  1. व्याकरण शिक्षण का
  2. गद्य शिक्षण का
  3. पद्य शिक्षण का
  4. नाटक शिक्षण का

 उत्तर- गद्य शिक्षण का

 प्रश्न 25. निगमन विधि का सूत्र नहीं है?

  1. नियम से उदाहरण की ओर।
  2. सामान्य से विशिष्ट की ओर।
  3. प्रत्यक्ष से प्रमाण की ओर।
  4. सूक्ष्म से स्थूल की ओर।

 उत्तर -प्रत्यक्ष से प्रमाण की ओर। 

 प्रश्न 26. काठिन्य निवारण पर विशेष बल दिया जाता है?

  1. गद्य शिक्षण में
  2. पद्य शिक्षण में
  3. नाटक शिक्षण में
  4. व्याकरण शिक्षण में

 उत्तर- गद्य शिक्षण में

प्रश्न 27. व्याकरण की पाठ योजना में महत्वपूर्ण सोपान है?

  1. प्रस्तावना
  2. प्रस्तुतीकरण
  3. नियम ई करण
  4. सामान्य करण

 उत्तर -प्रस्तुतीकरण

 प्रश्न 28. पूर्व ज्ञान परीक्षण उद्देश्य है?

  1. श्यामपट्ट प्रश्नों का
  2. प्रस्तावना प्रश्नों का
  3. प्रवाह कौशल प्रश्नों का
  4. प्रश्नोत्तर कौशल प्रश्नों का

 उत्तर- प्रस्तावना प्रश्नों का

Advertisement

Leave a Comment