Questions Based on Piaget Kohlberg Vygotsky Theory in Hindi

CTET 2021: Important Questions for Jean Piaget, Kohlberg and Vygotsky Theory

केंद्रीय शिक्षक पात्रता (CTET) परीक्षा की तिथि नजदीक आ रही है, यह परीक्षा 16 दिसंबर 2021 से ऑनलाइन आयोजित होगी, ऐसे में सभी अभ्यर्थी परीक्षा की तैयारी में जुटे हुए हैं, इस परीक्षा में Qualify करने के लिए आवश्यक है कि आप बाल विकास शिक्षा शास्त्र (CDP) की तैयारी अच्छे से करें, क्योंकि इस Section से पेपर -1 और पेपर-2 दोनों में प्रश्न पूछे जाएंगे, इसी बात को ध्यान में रखते हुए ,हमने वाइगोत्सकी ,जीन पियाजे और कोहलबर्ग के सिद्धांतों (Questions Based on Piaget Kohlberg Vygotsky Theory) पर आधारित कुछ वस्तुनिष्ठ प्रश्न आपके साथ सांझा किए हैं, जो कि आपकी परीक्षा के लिए बहुत ही हेल्पफुल होंगे-

Read Many More:-

MCQs on Piaget, Kohlberg,Vygotsky,Theory in Hindi

Q .1 पियाजे ने विकास को नियंत्रित करने वाले जैविक कारकों को महत्व दिया, जबकि वाइगोत्सकी ने इसके महत्व का कारण बताया:

A) चिंतन प्रक्रिया

B) सामाजिक संपर्क

C) भौतिक कारक

D) पर्यावरणीय कारक

Ans – B 

 

Q.2  जब वयस्क सहयोग से सामंजस्य कर लेते हैं तो वे बच्चे के वर्तमान स्तर के प्रदर्शन को संभावित क्षमता की स्तर के प्रदर्शन की तरफ प्रगति क्रम को सुगम बनाते हैं, उसे कहा जाता है ?

A) समीपस्थ विकास

B) सहयोग देना

C) सहभागी अधिगम

D) सहयोगात्मक अधिगम

Ans-A

 

Q.3 वाइगोत्सकी की सामाजिक सांस्कृतिक सिद्धांत के अनुसार

A) संस्कृति और भाषा संज्ञानात्मक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं

B) बच्चे अलग क्षेत्र में चिंतन करते हैं और वे पूर्ण परिप्रेक्ष्य नहीं लेते

C) यदि निम्न आयु पर अमूर्त सामग्री को प्रस्तुत किया जाए तो बच्चे अमूर्त तरीके से चिंतन करते हैं

D) स्व- निर्देशित बाक् सहयोग का निम्नतम स्तर है

Ans-A

 

Q.4 वाइगोत्सकी तथा पियाजे है कि परिप्रेक्ष्य में एक प्रमुख विभिन्नता है

A)  व्यवहारवादी सिद्धांतों की उनकी आलोचना

B) बच्चों को एक पालन पोषण का परिवेश उपलब्ध कराने की भूमिका

C) भाषा एवं चिंतन के बारे में उनके दृष्टिकोण

D) ज्ञान की सक्रिय निर्माताओं के रूप में बच्चों की संकल्पना

Ans-c

 

Q.5 लेव वायगोट्स्की के अनुसार आधारभूत मानसिक क्षमताओं को मुख्य रूप से किसके द्वारा उच्चतर संज्ञानात्मक प्रक्रियाओं में बदला जाता है-

A) सामाजिक पारस्परिक क्रिया

B) उद्दीपन अनुक्रिया संबंध

C) अनुकूलन एवं संघटन

D) पुरस्कार एवं दंड

Ans-A

 

Q.6 कोहलबर्ग के अनुसार सही और गलत के प्रश्न के बारे में निर्णय लेने में शामिल चिंतन प्रक्रिया को कहा जाता है ?

A) नैतिक यथार्थवाद

B) नैतिक दुविधा

C) सहयोग की नैतिकता

D) नैतिक तर्कणा

Ans-D

 

Q.7 एक बच्चा तर्क प्रस्तुत करता है – “आप यह मेरे लिए करें और मैं मैं आपके लिए करूंगा। “यह बच्चा कुबूल वर्कर की नैतिक तर्कणा की किस अवस्था के अंतर्गत आएगा ?

A) सहायक उद्देश्य अभिमुखीकरण

B) दंड और आज्ञापालन अभिमुखीकरण

C) अच्छा लड़का -अच्छा लड़का अभिमुखीकरण

D) सामाजिक अनुबंध अभिमुखीकरण

Ans-A

 

Q.8  कोहलवर्ग के अनुसार शिक्षक बच्चों में नैतिक मूल्यों का विकास कर सकता है ?

A) कैसे व्यवहार किया जाना चाहिए इस पर कठोर निर्देश देकर

B) धार्मिक शिक्षा को महत्व देकर

C) व्यवहार के स्पष्ट नियम बनाकर

D) नैतिक मुद्दों पर आधारित चर्चाओं में उन्हें शामिल करके

Ans -D

 

Q.9  कोहलवर्ग के सिद्धांत के योगदान के रूप में निम्नलिखित में से किसे माना जा सकता है ?

A) उनका विश्वास है कि बच्चे नैतिक दार्शनिक हैं ।

B) उनके सिद्धांत ने संज्ञानात्मक परिपक्वता और नैतिक परिपक्वता के बीच एक सहयोग का समर्थन किया है ।

C) इस सिद्धांत में विस्तृत परीक्षण प्रक्रियाएं है ।

D) यह नैतिक तर्क और कार्यवाही के बीच एक स्पष्ट संबंध स्थापित करता है ।

Ans-B

 

Q. 10 कोलबर्ग कि सिद्धांत की प्रमुख आलोचना क्या है ?

A) कोलबर्ग ने बिना किसी अनुभूतिमूलक आधार के सिद्धांत प्रस्तुत किया

B) कोह्लबर्ग नैतिक विकास की स्पष्ट अवस्थाओं का उल्लेख नहीं किया

C) कोलबर्ग  ने प्रस्ताव दिया कि नैतिक तार्किकता विकासात्मक है

D) कोलबर्ग में पुरुष एवं महिलाओं की नैतिक तार्किकता में सांस्कृतिक विभिन्नताओं को महत्व नहीं दिया

Ans- D

 

Q.11 पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक विकास की द्वितीय अवस्था है ? 

A) ज्ञानेन्द्रिय अवस्था

B) औपचारिक संक्रियता की अवस्था

C) पूर्व संक्रिया की अवस्था

D) मूर्त संक्रिया की अवस्था

Ans- C

 

Q.12 जीन पियाजे के अनुसार प्रस्तुत संरक्षण के प्रत्यय से तात्पर्य है कि

A) दूसरों के परिदृश्य को ध्यान में रखना एक महत्वपूर्ण संज्ञानात्मक क्षमता है ।

B) वन्य जीव और वनों का संरक्षण बहुत महत्वपूर्ण है ।

C) कुछ भौतिक गुणधर्म वहीं रहते हैं चाहे बाहरी आकृतियां बदल जाए ।

D) परिकल्पना पर विधिवत परीक्षण से सही निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है ।

Ans- C

 

Q.13 पियाजे के अधिगम के संज्ञानात्मक सिद्धांत के अनुसार वह प्रक्रिया जिसके द्वारा संज्ञानात्मक संरचना को संशोधित किया जाता है ……कहलाती है ?

A) प्रत्यक्षण

B) समायोजन

C) समावेशन

D) स्कीमा

Ans- B

 

Q.14 एक 12 साल का बच्चा यह समझता है कि एक मेज का वजन वही रहता है चाहे वह दाएं और हो या उल्टी हो उसमें किस सिद्धांत को समझाए ?

A) संरक्षण

B) आगमनात्मक तर्क

C) वस्तु स्थायित्व

D) परिकल्पित तर्क

Ans- A

 

Q.15 जीन पियाजे के अनुसार अनुकूलन – – – -द्वारा होता है ? 

A) आत्मसात्करण

B) व्यवस्थापन

C)अनुभव

D) आत्मसात्करण एवं व्यवस्थापन

Ans- D

Advertisement

Leave a Comment

error: Content is protected !!