Mitra ko Badhai Patra Sanskrit Mein || For Class 10th

संस्कृत में मित्र के लिए पत्र||Letter Write to Your Friend in Sanskrit

नमस्कार! अभ्यार्थियों इस आर्टिकल में हम पत्र लेखन (Mitra ko Badhai Patra Sanskrit Mein) से संबंधित आर्टिकल आपके साथ शेयर करने जा रहे हैं जिसमें हम भी शामिल किया है अपने मित्र को परीक्षा में सफलता प्राप्त करने पर बधाई देने हेतु पत्र लिखे संस्कृत भाषा में है यह परीक्षा के दृष्टिकोण से बहुत ही महत्वपूर्ण है

संस्कृत में मित्र को परीक्षा में सफलता पर बधाई पत्र

नर्मदा पुरम

दिनांक 20 जनवरी 2021
प्रिय मित्र रवि

नमस्ते !

अत्र कुशलं तत्रास्तु। तव पत्रं प्राप्य अतीव प्रसन्नोSस्मि। ईश्वरस्य अनुकम्पया वयमपि अत्र कुशलिनः। मम विद्यालयः ग्रीष्मावकाशाय 25/4/2021 तिथेः पिधास्यमानः अस्ति। तव विद्यालयः कदा पिधास्यते ?
अस्मिन वर्षे ग्रीष्मावकाशे सपरिवारोSहम् इंदौर नगरम गन्तुं इच्छामि। नगरमेतत् परं रमणीयं। अतएव त्वमपि मया सह इंदौर नगरम आगच्छ। आशासे यत् अत्रागमानेन त्वम् माम् अनुगृहीतं करिष्यसि।

कुशलमन्यत्प। परिचितेभ्यो नमः। पत्रोत्तरं देहि शीघ्रं।

बंधु

कैलाश

दोस्तों उपरोक्त आर्टिकल में हमने संस्कृत पत्र लेखन (Mitra ko Badhai Patra Sanskrit Mein) से संबंधित पोस्ट आपके साथ शेयर की है आशा है कि आप उसका ध्यान पूर्वक अध्ययन करेंगे और परीक्षा में आने वाले से संबंधित प्रश्नों को आसानी से हल कर सकेंगे

इन्हें भी पढ़ें :-

Can Read Many More Sanskrit Essay
Essay on Science in Sanskrit for Class 10     Click Here

Diwali Essay in Sanskrit for Class 10              Click Here

Essay on Sadachar in Sanskrit for Class 10  Click Here 

Essay on the Sanskrit Language in Sanskrit       Click Here

Kalidas Nibandh in Sanskrit for Class 10     Click Here

Essay on Holi in Sanskrit for Class 10th       Click Here

10 Sentence on Raksha Bandhan in Sanskrit  Click Here

उद्यानम् का निबंध संस्कृत भाषा में  Click Here

Leave a Comment